फ्लॉप एक्टर के ठप्पे के चलते अमिताभ के हाथ से निकली फिल्म

नई दिल्ली. बॉलीवुड शेहंशाह अमिताभ बच्चन आज 81 की उम्र में भी मेकर्स की पहली पसंद बने हुए हैं. करियर की इस मुकाम तक पंहुचने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष किया है. आज हर फिल्म में अहम भूमिका में नजर आने वाले बिग बी को कभी एक नए नवेले एक्टर के चलते फिल्म से बाहर कर दिया गया था.
अमिताभ बच्चन लंबे समय से इंडस्ट्री पर राज कर रहे हैं. उनकी हर फिल्म हिट की गारंटी बनकर बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाती है. लेकिन कभी उनके करियर का बुरा दौर भी रहा है, जब उनकी बैक टू बैक फिल्में फ्लॉप होती जा रही थी. अमिताभ के साथ उस वक्त कोई काम नहीं करना चाहता था. क्योंकि उन्हें लगता था कि उनकी फिल्म फ्लॉप हो जाएगी.
साल 1973 में एक सुपरहिट फिल्म में अमिताभ बच्चन को नासिर हुसैन के साथ काम करने का सुनहरा मौका मिला था. लेकिन डिस्ट्रिब्यूटर को डर था कि फिल्म फ्लॉप हो जाएगी. उन्होंने बिग बो फिल्म में कास्ट करने से इनकार कर दिया और अमिताभ बच्चन के हाथ से वो सुपरहिट फिल्म निकल गई.
साल 1973 में आई वो नासिर हुसैन के निर्देशन में बनी फिल्म थी यादों की बारात. इस फिल्म में विजय अरोड़ा को कास्ट किया गया था. फिल्म में धर्मेंद्र, जीनत अमान, अजीत, आमिर खान ने अहम भूमिका निभाई थी. आमिर खान ने फिल्म में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया था.
फिल्म यादों की बारात ने साल 1973 की बड़ी हिट साबित हुई थी. फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 5.50 करोड़ रुपये का कलेक्शन किया था. इस फिल्म से आमिर ने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट डेब्यू किया था.
इस फिल्म का एक गाना ‘चुरा लिया है तुमने जो दिल को’तो काफी पॉपुलर हुआ था. इस फिल्म से विजय अरोड़ा रातोंरात सुपरस्टार बन गए थे. उन्होंने एक ही फिल्म से राजेश खन्ना के स्टारडम को टक्कर दे दी थी. उनके आगे फिल्मों की लाइन लग गई थी. लेकिन उनका स्टारडम एक फिल्म में ही सिमट कर रह गया था. इतना काम करने के बाद भी वह कभी इंडस्ट्री में अपना सिक्का नहीं जमा पाए थे.
विजय अरोड़ा को फिल्मों काम मिलना कम हुआ तो उन्हें 1987 में आई रामानंद सागर की रामायण में रावण के बेटे मेघनाद का रोल ऑफर हुआ. इस किरदार को निभाने के बाद तो विजय अरोड़ा को छोटे पर्दे पर भी बड़ी पहचान मिली.

2024-07-10T05:05:00Z dg43tfdfdgfd